कोरोना महामारी के दौर में जब दुनिया जान बचाने के लिए घरों में कैद है, पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था दांव पर लगी है। ऐसे समय में भी पाकिस्तान और उसके समर्थित आतंकी संगठन कश्मीर में चैन से बैठने को तैयार नहीं है। जंहा एक ओर पाकिस्तान सीमा पार से गोली चला कर आतंकी भारत की सीमा में घुसाने की कोशिश में लगा हुआ है वंही कश्मीर में आतंकियों ने सक्रियता बढ़ा रखी है।

भारतीय सुरक्षा बल भी पूरी मुस्तैदी से आतंकियों के मंसूबे ख़त्म करके उनके सफाये में लगे हुए है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार सुबह हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी मार गिराए है। मारे गए दो आतंकियों की पहचान अभी बाकी है जबकि तीसरा आतंकी स्थानीय कश्मीरी युवक है जो पहले भी आतंकियों की मदद करने के लिए जाना जाता रहा है।

पुलिस के अधिकारी ने बताया की दक्षिणी कश्मीर के अवंतीपुरा के गोरीपुरा इलाके में आतंकिये के छिपे होने की पुख्ता जानकारी मिली थी जिसके बाद भारतीय सेना, सीआरपीऍफ़, ओर जम्मू कश्मीर पुलिस के सयुंक्त दल ने इलाके को घेर लिया। सुरक्षा बलों द्वारा ललकारने पर आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी।

जवाबी कार्यवाही में दोनों आतंकी ओर तीसरा उनका सहयोगी मारे गए। इलाके में तलाशी अभियान अभी भी जारी है।

5 स्पेशल फ़ोर्स कमांडो, 5 आतंकी: एक ऐसी जंग जिसकी कहानी लाशें बयां क़र रही थी